Republic day speech 2020 in hindi रिपब्लिक डे स्पीच इन हिंदी

0
28

Republic day speech in hindi: गणतंत्र दिवस भारत के एक राष्ट्रीय त्यौहार है जिसे पूरे देश में बड़ी ही धूम धाम से साथ मनाया जाता है। इस त्यौहार पर स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इस मौके पर छात्रों के कौशल और ज्ञान को बढ़ाने के लिए शिक्षकों द्वारा विभिन्न गतिविधियों को संचालित किया जाता है जिनमें भाषण और समूह चर्चा सबसे खास है।

Speech on republic day in hindi

गणतंत्र दिवस या Republic day के खास मौके पर बहुत से स्कूल या कॉलेज में भाषण (speech) भी दी जाती है। इस पेज पर हमने गणतंत्र दिवस (Republic day) से जुड़े विभिन्न तरह के भाषण प्रदान किये हैं जिनकी मदद से आप इस गणतंत्र दिवस के मौके पर बिना किसी हिचकिचाहट के भाषण गतिविधि में शामिल हो सकते हैं। इस पेज पर हम क्लास के हिसाब से भी Republic Day Speech in Hindi शेयर कर रहें हैं जिनमें से आप अपने हिसाब का भाषण का चयन कर सकते हैं।

Also Read: Republic day Essay in Hindi

republic day speech in hindi 500 words

गुड मोर्निंग सभी को को सुप्रभात। मेरा नाम है —- मैं कक्षा में पढ़ता हूँ— जैसा कि हम सभी जानते हैं कि आज हम यहां पर एक हमारे भारत देश एक विशेष राष्ट्रीय त्यौहार को मानाने के लिए यहाँ एकत्रित हुए हैं जिसे भारत का गणतंत्र दिवस केते हैं। मैं यहां पर आपके सामने गणतंत्र दिवस का भाषण सुनाना चाहूंगा। सबसे पहले मैं अपने क्लास टीचर को बहुत-बहुत धन्यवाद कहना चाहूंगा क्योंकि उनकी वजह से ही आज मुझे अपने स्कूल में गणतंत्र दिवस के इस महान अवसर पर अपने प्यारे देश के बारे में दो शब्द कहने के मौका मिला है।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि 15 अगस्त 1947 के बाद हमारा भारत एक एक स्वशासित देश है। भारत को इस दिन ब्रिटिश शासन से आज़ादी मिली, जिसे हम स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं और 26 जनवरी 1950 के बाद से हम इस दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। 26 जनवरी 1950 के दिन भारत का संविधान लागू हुआ था, इसलिए हम हर साल इस दिन को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं। इस वर्ष 2020 में हम भारत का 71 वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं।

गणतंत्र का अर्थ देश में रहने वाले लोगों की सर्वोच्च शक्ति है और देश को एक सही दिशा में ले जाने के लिए राजनीतिक प्रतिनिधि का चुनाव करना भी देश की जनता के साथ में है। आज भारत एक गणतंत्र देश है यहां की जनता अपने नेताओं को राष्ट्रपति, प्रधान मंत्री के लिए चुनती है।  जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हमारे भारत देश स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में “पूर्ण स्वराज” पाने के लिए बहुत संघर्ष किया और ढेर सारी लड़ाइयाँ लड़ी हैं। उन सभी लोगों ने देश और आने वाली पीढ़ियों के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए कड़ा संघर्ष किया है।

भारत के महान नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों के नाम भगत सिंह, चंद्र शेखर आजाद, महात्मा गांधी, सरदार बल्लभ भाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री, लाला लाजपत राय आदि हैं। इन सभी महान लोगों ने हमारे देश को एक स्वतंत्र देश बनाने के लिए ब्रिटिश शासन के खिलाफ लगातार लड़ाई लड़ी। और यह उनकी के संघर्ष का परिणाम है कि आज हम सभी लोग भारत देश में स्वतंत्र रूप से रह रहें हैं। हम सभी लोग इन महान लोगों के देश के प्रति बलिदान को कभी नहीं भूल सकते। आज गणतंत्र दिवस के खास मौके पर में उन सभी महान लोगों को याद करता और उन्हें दिल से सलाम करता हूँ। क्योंकि आज हम जिस तरह से इस देश में रह रहें हैं यह सब उनके ही कारण संभव हो पाया है।

मैं एक खास मौके पर एक और बात कहना चाहता हूँ कि भले ही आज हम एक स्वतंत्र देश में रहते हैं लेकिन आज भी हमारे देश में अपराध, भ्रष्टाचार और हिंसा (आतंकवादी, बलात्कार, चोरी, दंगे, हमले आदि) जैसी कई घटनाएँ होती रहती हैं। इसलिए हम सभी को इन सभी अपराधों से अपने देश को बचाने के लिए एकजुट होने की आवश्यकता है क्योंकि यह हमारे राष्ट्र को विकास और प्रगति की ओर जाने से पीछे खींच रहा है। हमें अपने देश के सभी सामाजिक मुद्दों जैसे गरीबी, बेरोजगारी, ग्लोबल वार्मिंग, असमानता, अशिक्षा आदि के बारे में पता होना चाहिए ताकि आगे हम पढ़ लिखकर देश की इन सभी समस्या को हल कर सकें।

डॉ अब्दुल कलाम ने कहा है कि “अगर किसी भी देश को भ्रष्टाचार मुक्त होना है तो मैं यह महसूस करता हूं कि हमारे समाज में 3 ऐसे लोग हैं, जो ऐसा कर सकते हैं। ये हैं- पिता, माता और शिक्षक ” भारत के नागरिक होने के नाते हमें इस बारे में गंभीरता से सोचना चाहिए और हम अपने देश के लिए क्या अच्छा कर सकते हैं उस पर जरुर विचार करना चाहिए।

Also Read: All Essay in Hindi

REPUBLIC DAY SPEECH 2 in Hindi

gantantra diwas speech in hindi: आदरणीय प्रिंसिपल मैडम, आदरणीय सर और मैडम और मेरे सभी सहयोगियों को सुप्रभात। मैं आप सभी को शुक्रिया कहना चाहूंगा कि आप सभी ने मुझे हमारे गणतंत्र दिवस पर कुछ बोलने का एक शानदार मौका दिया है।

मेरा नाम है…  मैं कक्षा में पढ़ता हूँ। आज हम सभी यहां भारत के 71 वें गणतंत्र दिवस का जश्न मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं। आज का यह दिन हम सभी के लिए बहुत खास और सुभ है। आज हम सभी को एक दूसरे को शुभकामनाएं देनी चाहिए और हमारे भारत देश के विकास और समृद्धि के लिए भगवान से प्रार्थना करनी चाहिए। हम सभी लोग 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मानते हैं क्योंकि

इस दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। हम सभी भारतवासी 1950 से नियमित रूप से भारत का गणतंत्र दिवस मना रहे हैं क्योंकि 1950 में 26 जनवरी के दिन ही भारत का संविधान लागू हुआ था।

हमारा देश भारत एक लोकतांत्रिक देश है, जहां जनता को अपने देश का नेता को चुनने का अधिकार प्राप्त है। आप सभी जानते होंगे कि डॉ राजेंद्र प्रसाद हमारे भारत के पहले राष्ट्रपति थे। हमें 1947 में ब्रिटिश शासन से आजादी मिली थी,

जिसके बाद हमारे देश का तेजी से विकास हुआ और आज हमारा देश दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशों में गिना जाता है। भले ही आज हमारे देश का विकास हो गया है लेकिन इसके बाद भी आज हमारे देश में कई कमियां जैसे कि अशिक्षा, गरीबी, बेरोजगारी, असमानता, भ्रष्टाचार, आदि पैदा हो गई हैं जिन्हें हमें आज एकजुट होकर दूर करने की आवश्यकता है। हमें अपने प्यारे भारत देश को दुनिया का सर्वश्रेष्ठ देश बनाने के लिए समाज से ऐसी समस्याओं को दूर करना होगा और देश के हित में कार्य करने का संकल्प लेना होगा।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here